जयपुर के लाल ने Tokyo Paralympics में कर दिया कमाल, बैडमिंटन प्रतियोगिता में जीता गोल्ड मेडल

टोक्यो पैरालंपिक में जयपुर के बैडमिंटन खिलाड़ी कृष्णा नागर ने दुनियाभर में भारत का नाम रोशन कर दिया है. एक्स SH-6 कैटेगरी में हुए रोमांचक मुकाबले में कृष्णा ने हांगकांग के चू मान केई को करारी शिकस्त देकर गोल्ड मेडल जीत लिया है.

जयपुर के लाल ने Tokyo Paralympics में कर दिया कमाल, बैडमिंटन प्रतियोगिता में जीता गोल्ड मेडल
width="75px" width="575px" width="575px"
width="575px" width="575px"
width="175px" width="475px" width="375px"

टोक्यो पैरालंपिक में जयपुर के बैडमिंटन खिलाड़ी कृष्णा नागर ने दुनियाभर में भारत का नाम रोशन कर दिया है. एक्स SH-6 कैटेगरी में हुए रोमांचक मुकाबले में कृष्णा ने हांगकांग के चू मान केई को करारी शिकस्त देकर गोल्ड मेडल जीत लिया है.बता दें, कृष्णा राजस्थान के दूसरे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीता है. इससे पहले शूटिंग में अवनि लेखरा ने गोल्ड जीता था. कृष्णा नागर ने बैडमिंटन SH6 कैटेगरी में 21-17, 16-21 और 17-21 से मैच अपने नाम किया और देश की पदक तालिका में एक और गोल्ड मेडल जुड़वाया.

कृष्णा नागर ने टोक्यो पैरा ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करते हुए बैडमिंटन मुकाबले के फाइनल में हांगकांग के खिलाड़ी चू मान कई पर जीत दर्ज की. पहला सेट संघर्ष पूर्ण तरीके से जीतने के बाद कृष्णा नागर दूसरे सेट में हारे और खेल 1-1 की बराबरी पर हो गया, लेकिन तीसरे और अंतिम सेट में कृष्णा ने शुरुआत से विपक्षी खिलाड़ी पर बढ़त कायम रखी और आखिर में जीत दर्ज की.

नागर की इस उपलब्धि से उनके पिता सुनील नागर काफी खुश नजर आए. उन्होंने कहा कि उन्हें यकीन था कि कृष्णा स्वर्ण पदक अपने नाम करेंगे. कोच यादवेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि आज शिक्षक दिवस है और बतौर कोच इससे बेहतर कोई उपहार उन्हें आज के दिन नहीं मिल सकता था.

बता दें, बैडमिंटन एसोसिएशन की ओर से जयपुर के एसएमएस इनडोर स्टेडियम में बड़ी स्क्रीन लगाकर लाइव मैच देखने की व्यवस्था की गई थी. जहां खिलाड़ी, एसोसिएशन के पदाधिकारी और कृष्णा नगर के परिजन मौजूद रहे. फाइनल में जीत दर्ज करने वाले कृष्णा नागर के प्रशंसकों और जयपुर जिला बैडमिंटन संघ सचिव मनोज दासोत ने कहा कि कृष्णा की इस जीत से युवाओं को प्रेरणा मिलेगी. कृष्णा ने एसएमएस में खेलने वाले दूसरे खिलाड़ियों की तुलना में अतिरिक्त मेहनत की, जिसका नतीजा है कि आज उन्हें गोल्ड मेडल मिला. जयपुर आने पर उनका भव्य स्वागत किया जाएगा.

बता दें कि दुनिया के नंबर दो पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी कृष्णा नागर ने 21 वर्ष की उम्र में पहले बैडमिंटन के अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में देश के लिए दो स्वर्ण पदक जीते हैं. उसके बाद टोक्यो पैराओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया और अब खेलों के इसी महासमर में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रोशन किया.

बधाइयों का लगा तांता

वहीं, कृष्णा नागर के गोल्ड मेडल जीतने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सीएम अशोक गहलोत, सांसद दीया कुमारी सहित कई नेताओं ने ट्वीट कर बधाई दी है. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने भी ट्वीट कर नागर को बधाई दी है.

In Tokyo Paralympics, Jaipur's badminton player Krishna Nagar has illuminated the name of India all over the world. Krishna has won the gold medal by defeating Chu Man Kei of Hong Kong in a thrilling match in the X SH-6 category. Earlier, Avani Lekhara had won gold in shooting. Krishna Nagar won the match 21-17, 16-21 and 17-21 in the Badminton SH6 category and added another gold medal to the medal tally of the country.


Krishna Nagar performed brilliantly in the Tokyo Para Olympics, winning the final of the badminton match over Hong Kong player Chu Man Kei. After winning the first set, Krishna Nagar lost in the second set and the game was tied 1-1, but in the third and final set, Krishna kept the lead over the opposition player from the beginning and finally won.

His father Sunil Nagar was very happy with this achievement of Nagar. He said that he was sure that Krishna would win the gold medal. Coach Yadvendra Singh Shekhawat said that today is Teacher's Day and as a coach, he could not have got any better gift than this.


Let us tell you, arrangements were made by the Badminton Association to watch the live match by installing a big screen at SMS Indoor Stadium in Jaipur. Where players, association officials and relatives of Krishna Nagar were present. The fans of Krishna Nagar, who won the final, and Jaipur District Badminton Association secretary Manoj Dasot said that Krishna's victory will inspire the youth. Krishna worked extra hard than other players who played in SMS, as a result of which he got the gold medal today. He will be given a grand welcome on his arrival in Jaipur.


Let us inform that Krishna Nagar, the world's number two para badminton player, has won two gold medals for the country in the first international tournament of badminton at the age of 21. After that qualified for the Tokyo Paralympics and now illuminated the name of the country by winning the gold medal in the same season of the Games.

influx of congratulations

At the same time, after winning the gold medal of Krishna Nagar, many leaders including Prime Minister Narendra Modi, CM Ashok Gehlot, MP Diya Kumari have congratulated by tweeting. Lok Sabha Speaker Om Birla has also congratulated Nagar by tweeting.