राजस्थान में निर्भया जैसी दिल दहलाने वाली दरिंदगी, नाबालिग गैंगरेप पीडि़ता के खून से लाल हो गई सड़क, दरिंदों ने नुकीली चीज से किए वार

राजस्थान में निर्भया जैसी दिल दहलाने वाली दरिंदगी, नाबालिग गैंगरेप पीडि़ता के खून से लाल हो गई सड़क, दरिंदों ने नुकीली चीज से किए वार
07 ..............................
5
width="300px" M24C01D20S21 width="220px" M26C01D20S21 width="220px" width="220px"

राजस्थान के अलवर में दिल्ली के निर्भया कांड जैसा दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। दरिंदों ने मूकबधिर नाबालिग के साथ गैंगरेप किया। इसके बाद किसी नुकीली चीज से नाबालिग के प्राइवेट पार्ट पर जख्म दिए। बेजुबान होने के कारण पीडि़ता चिल्लाकर अपना दर्द भी बयां नहीं कर पाई। युवक उसे लेकर गाड़ी में घूमते रहे। जख्मों से खून लगातार रिसता रहा तो वे उसे एक पुलिया पर फेंक कर फरार हो गए। उसके बाद पीडि़ता तिजारा पुलिया पर करीब एक घंटे पड़ी रही। इतना खून बहा कि सड़क लाल हो गई।

खून से लथपथ नाबालिग को कुछ राहगीरों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। रात 9 बजे पीडि़ता को जिला अस्पताल लाया गया। वहां के चिकित्सकों ने बताया कि शुरुआत में नाबालिग को देखकर लगा कि वह मानसिक रूप से कमजोर हो सकती है। मुंह से आवाज निकली रही थी, तब पता चला कि वह मूकबधिर है। उम्र करीब 16 साल है। मंगलवार शाम करीब 4 बजे घर से निकल गई थी। अभी तक यह पता नहीं चला कि दरिंदों ने कहां से और कैसे उसका अपहरण किया। चिकित्सकों का कहना है कि नाबालिग का बहुत अधिक खून बह चुका था। उसके प्राइवेट पार्ट में काफी बड़ा कट लगा हुआ था।

किसी नुकीली चीज से ये जख्म किया गया। इसी कारण उसका काफी खून बह गया है। इसके कारण बालिका को 2 यूनिट खून चढ़ाया गया। इसके बाद एक यूनिट एक्स्ट्रा खून के साथ नाबालिग को अलवर से जयपुर रेफर किया। जयपुर में डीएसपी अंजू जोरवाल सहित स्टाफ लेकर गया। वहां जेके लॉन अस्पताल में नाबालिग का इलाज चल रहा है। ऑपरेशन की जरूरत भी इसलिए पड़ी कि नाबालिग के प्राइवेट पार्ट में नुकीली वस्तु डाली गई थी, जिससे काफी बड़ा कट लगा हुआ था। वहीं नाबालिग के परिवार को सरकार से करीब साढे 3 लाख रुपए की सहायता देने की कलेक्टर ने मंजूर की है।

.

.

.

A heart-wrenching case like Delhi's Nirbhaya case has come to light in Alwar, Rajasthan. The poor gang-raped the deaf minor. After this, he inflicted wounds on the private part of the minor with a sharp object. Being speechless, the victim could not even express her pain by screaming. The young man kept walking with him in the car. When blood continued to seep from the wounds, they threw it on a culvert and fled. After that the victim was lying on the Tijara culvert for about an hour. So much blood shed that the road turned red.

Some passersby saw the blood-soaked minor and informed the police. The victim was brought to the district hospital at 9 pm. The doctors there said that initially seeing the minor, it seemed that she might be mentally weak. A sound was coming out of his mouth, then it was found that he was deaf. Age is about 16 years. Left the house around 4 pm on Tuesday. It is not yet known from where and how the perpetrators abducted her. Doctors say that the minor had lost a lot of blood. There was a huge cut in his private part.

It was injured by some sharp object. Because of this he has lost a lot of blood. Due to this the girl was given 2 units of blood. After this, the minor was referred from Alwar to Jaipur with one unit extra blood. In Jaipur, DSP Anju Jorwal took along with the staff. The minor is undergoing treatment at JK Lawn Hospital there. The operation was also needed because a sharp object was inserted in the private part of the minor, due to which there was a huge cut. At the same time, the collector has approved the assistance of about three and a half lakh rupees from the government to the family of the minor.