National Vaccination Day 2022: कोविड-19 वैक्सीन का महत्व और आपको इसे क्यों ज़रूर लगवाना चाहिए?

National Vaccination Day 2022: कोविड-19 वैक्सीन का महत्व और आपको इसे क्यों ज़रूर लगवाना चाहिए?
07 .
..
5 ....
alt=width= .
..
... width="220px" 28m06c21d width="370px"

 वैक्सीन के महत्व और सार्वजनिक स्वास्थ्य में इसकी भूमिका के प्रति जागरुकता बढ़ाने लिए हर साल 16 मार्च को राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस मनाया जाता है। कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीन, विज्ञान का उपयोग कर विकसित की गई, जो सदियों से किताबों में रहा है। इन्हें एक्सपेरिमेंट के तौर पर नहीं बनाया गया था। यह सफल साबित हुईं क्योंकि यह विज्ञान के सभी चरणों से गुज़री।

इसके अलावा, कोविड-19 की वैक्सीन की निगरानी कई स्वास्थ्य संगठनों द्वारा की जाती है। इसके पीछे कारण है इस वायरस द्वारा दुनिया भर में फैली महामारी। इसलिए हर व्यक्ति का फर्ज़ बनता है कि वे वैक्सीनेशन ड्राइव का हिस्सा बने।

जिंदल नेचरक्योर इंस्टीट्यूट में सहायक मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ. के. षणमुगम ने कहा, "वैक्सीन मानव शरीर को एक विशिष्ट बीमारी से लड़ने की शक्ति प्रदान करती है। यह घातक बीमारियों को रोकने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक है

और टीकाकरण कार्यक्रम किसी भी राष्ट्र के सार्वजनिक स्वास्थ्य में एक बहुत ही अभिन्न भूमिका निभाते हैं। कोविड-19 महामारी के दौरान भी वैक्सीन ही हमें आशा दे रही है। वैक्सीनेशन सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है, जिससे हम खुद को और अपने परिवार को गंभीर बीमारियों से बचा सकते हैं। वे हर साल दुनिया भर में 30 लाख मौतों को रोकती हैं।"

तो आज नैशनल वैक्सीनेशन डे के मौके पर जानें कि कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीन लगवानी क्यों ज़रूरी है।

कोविड-19 वैक्सीन है असरदार

दुनिया में कई दवा प्रशासन अधिकारियों द्वारा कोविड-19 टीकों का परीक्षण किया गया है। इन वैक्सीन को लगाने से कोविड-19 इंफेक्शन से संक्रमित होने का ख़तरा कम होता है।

आप वैक्सीन लगवाकर जन कल्याण में योगदान दे रहे हैं

एक बार आपको वैक्सीन लग जाए, तो आपका शरीर आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाकर वायरस से बचाव के लिए बेहतर रूप से तैयार करता है। वैक्सीन लगवाकर आप सिर्फ खुद को सुरक्षित नहीं करते हैं, बल्कि अपने आसपास के लोगों की भी रक्षा करते हैं।

अपने इम्यून सिस्टम को बढ़ावा देने का एक सुरक्षित तरीका

वैक्सीनेशन आपके इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए जानी जाती हैं। यह शरीर के इम्यून सिस्टम को सिखाती है कि वायरस से कैसे लड़ना है। इसलिए कई लोग वैक्सीनेशन को इम्यून सिस्टम को बढ़ावा देने का एक तरीका मानते हैं।

कोविड वैक्सीन से आपको कोरोना संक्रमण नहीं होगा

आप ऐसे कई लोगों से मिले होंगे जिन्हें लगता है कि क्योंकि वैक्सीन में वायरस का कुछ हिस्सा मौजूद है, इसलिए वे कोविड से संक्रमित हो सकते हैं। लेकिन सच यह है कि इस तरह वायरस आपको शरीर को प्रभावित नहीं करता है। इसलिए निश्चिंत होकर वैक्सीन लगवाएं क्योंकि इससे आपको संक्रमित होने का कोई ख़तरा नहीं है।