चलती बस से गुटखा थूकना पड़ा भारी, 4 लोगों की हुई मौत, इलाके में हड़कंप

चलती बस से गुटखा थूकना पड़ा भारी, 4 लोगों की हुई मौत, इलाके में हड़कंप
07 .
..
5 ....
alt=width= .
..
... width="220px" 28m06c21d width="370px"

कोटा जिले के सिमलिया थाना इलाके में नेशनल हाईवे 27 पर मंगलवार की अहले सुबह दर्दनाक सड़क हादसा हो गया। यहां स्लीपर कोच की एक बस आगे चल रहे ट्रेलर से टकरा गई। हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई। वहीं आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए अलग-अलग अस्पतालों में भेजा गया है। घटना के समय बस में सवार कई यात्री सो रहे थे। यह बस गुजरात से उत्तर प्रदेश की तरफ जा रही थी। हादसे के बाद मौके पर कोहराम मच गया।

पुलिस ने बताया कि उत्तर प्रदेश राज्य की स्लीपर कोच बस में 50 से अधिक लोग सवार थे। ये बस कराडिया पेट्रोल पंप के नजदीक सड़क हादसे का शिकार हुई। जिसमें 3 लोगों की मौके पर ही और एक की कोटा अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हुई है। वहीं घटना की सूचना के बाद ग्रामीण पुलिस अधीक्षक कावेन्द्र सिंह सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए।
मौके पर पहुंची पुलिस और बस में बैठे यात्रियों ने बताया कि सिमलिया टोल प्लाजा क्रॉस करने के बाद बस रूकी थी और बस चालक ने गुटका भी खाया था। जैसे ही बस रवाना हुई अचानक बस चालक ने गुटका थूकने के दौरान आगे चल रहे ट्रेलर को ओवरटेक करने की कोशिश की।
जिससे बस का संतुलन बिगड़ गया और बस का एक हिस्सा ट्रेलर के पिछले हिस्से से जा टकराया। पुलिस का कहना है कि बस में 3 चालक मौजूद थे। जिनमें से दो की मौत हो गई और जो बस चला रहा था वह मौके से फरार हो गया है।
बस हादसे में घायल यात्रियो में कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है। एक यात्री का कहना है कि बस में सवार कई यात्री सो रहे थे। जिस वजह से यात्रियों को संभलने का मौका तक नहीं मिला और यह बस हादसे का शिकार हो गई। जिस जगह से बस क्षतिग्रस्त हुई उस जगह पर कई यात्री फंस गए जिनको काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। चिकित्सकों का कहना है कि कई यात्रियों की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। जिनको बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है।