पशुओं के चारे में आग लगाकर पिता की आंखों में धूल झोंककर खेत में सो रही नाबालिग को अगवाकर किया गैंगरेप

पशुओं के चारे में आग लगाकर पिता की आंखों में धूल झोंककर खेत में सो रही नाबालिग को अगवाकर किया गैंगरेप
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

भरतपुर। भरतपुर के लखनपुर थाना इलाके से एक नाबालिग के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। नाबालिग अपने पिता और भाई के साथ खेत में बनी कोठरी में सो रही थी। तभी वहां गांव के कुछ लोग आए और उठाकर सुनसान जगह ले गए। इसके बाद आरोपियों ने उसके साथ गैंगरेप किया और फरार हो गए। घटना का पता लगने के बाद बच्ची के परिजनों ने लखनपुर थाने में मामला दर्ज करवाया है।

नाबालिग के पिता ने मामला दर्ज करवाते हुए बताया कि वह अपने बेटे और नाबालिग बेटी के साथ खेत की कोठरी में सो रहे थे। रात करीब 1 बजे वहां गांव के 5 लोग आए और उनके खेत में रखे पशुओं के चारे में आग लगा दी और खेत के पास जंगल में छुप गए। चारे में आग लगने के बाद नाबालिग का पिता और भाई आग बुझाने लगे। इस दौरान जंगलों में छुपे आरोपी आए और उनकी बेटी को कोठरी से उठाकर जंगल में ले गए, जहां उसके साथ 5 लोगों ने गैंगरेप किया। इसके बाद नाबालिग को बेहोशी की हालत में छोड़कर फरार हो गए।

चारे में लगी आग बुझाने के बाद वो कोठरी में पहुंचे तो वहां नाबालिग नहीं मिली। इस पर उन्होंने आसपास उसको ढूंढा, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। थोड़ी देर बाद नाबालिग अपने पिता के पास पहुंची और आपबीती बताई। मंगलवार को नाबालिग के पिता ने लखनपुर थाने में गैंगरेप का मामला दर्ज करवाया है। फिलहाल पुलिस नाबालिग द्वारा बताए गए हुलिये के मुताबिक पांचों आरोपियों की तलाश कर रही है, लेकिन आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर है।

.

.

.

Bharatpur. A case of gangrape with a minor has come to light from Lakhanpur police station area of ​​Bharatpur. The minor was sleeping with her father and brother in a cell built on the farm. Then some people of the village came there and picked them up and took them to the deserted place. Thereafter, the accused gang-raped her and fled. After coming to know about the incident, the girl's family members have registered a case at Lakhanpur police station.

While registering the case, the father of the minor told that he was sleeping in the cell of the farm with his son and minor daughter. At around 1 o'clock in the night, 5 people of the village came there and set fire to the fodder of the animals kept in their field and hid in the forest near the farm. The minor's father and brother started dousing the fire after the fodder caught fire. During this, the accused hiding in the jungles came and took their daughter from the cell and took her to the forest, where she was gang-raped by 5 people. After this, leaving the minor in a state of unconsciousness, he fled.

When he reached the cell after extinguishing the fire in the fodder, the minor was not found there. On this they searched for him around, but he could not find anything. After a while the minor reached her father and told the incident. On Tuesday, the father of the minor has lodged a case of gangrape at Lakhanpur police station. At present, the police is looking for the five accused according to the description given by the minor, but the accused is still away from the police.