बीकानेर: दो पक्षों में विवाद मौके पर पुलिस बल तैनात, बाजार बंद करवाया….

बीकानेर: दो पक्षों में विवाद मौके पर पुलिस बल तैनात, बाजार बंद करवाया….
width="75px" width="575px" width="575px"
width="575px" width="575px"
width="175px" width="475px" width="375px"

नोखा के घट्‌टू गांव में मंगलवार को दो पक्षों में विवाद के बाद से तनाव की स्थिति बनी हुई है। एक पक्ष के लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। दूसरा पक्ष युवकों पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की मांग कर रहा है।थाने पर मंगलवार शाम को भी जमकर प्रदर्शन किया गया था। इसके बाद बुधवार को नोखा बंद की घोषणा कर दी गई। सुबह से लोगों ने बाजारों में दुकानें बंद करवा दीं।

दरअसल, मंगलवार को घट्‌टू गांव में तमिलनाडू से आए कुछ युवकों की गतिविधियों पर आपत्ति दर्ज कराई गई थी। इस पर नोखा पुलिस को सूचना दी गई। युवकों को लेकर पुलिस नोखा थाने आ गई। देखते ही देखते नोखा थाने के सामने भारी भीड़ जमा हो गई। इन युवकों को जमानत पर छोड़ने को लेकर नाराजगी जताते हुए बुधवार सुबह नोखा बंद करवाया गया।

घंटाघर के पास नारे लगाते हुए पुलिस की भूमिका पर सवाल खड़े किए गए। आरोप लगाया गया कि पुलिस एक पक्ष को समर्थन दे रही है। सुबह 11 बजे तक नोखा के सभी मुख्य बाजार पूरी तरह बंद रहे। आवश्यक सेवाओं के तहत दवाओं की दुकानों को छूट दी गई है, जबकि शेष अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखे गए हैं।

शहर में घटनाक्रम पर नजर रखने के लिए पुलिस भी तैनात है। सीओ नेमसिंह खुद पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं, जबकि थानेदार ईश्वरचंद जांगिड़ भी एरिया में सक्रिय है।विरोध प्रदर्शन के दौरान किसी तरह के उग्र विरोध का दृश्य देखने को नहीं मिला। व्यापारी भी बिना किसी विरोध के दुकानें बंद कर रहे हैं। मामले में जिला कलक्टर नमित मेहता ने रिपोर्ट तलब की है।

.

.

.

Tension prevailed in Ghattu village of Nokha after a dispute between the two parties on Tuesday. The people of one side have been detained by the police. The other side is demanding action by registering a case against the youths. There was a fierce demonstration at the police station on Tuesday evening as well. After this, Nokha Bandh was announced on Wednesday. Since morning, people closed shops in the markets.


In fact, on Tuesday, an objection was lodged in Ghattu village on the activities of some youths who came from Tamil Nadu. Nokha police was informed on this. The police came to Nokha police station with the youths. Soon a huge crowd gathered in front of Nokha police station. Expressing displeasure over the release of these youths on bail, Nokha was closed on Wednesday morning.


Raising slogans near the clock tower, questions were raised on the role of the police. It was alleged that the police was supporting one side. All the main markets of Nokha remained completely closed till 11 am. Medicine shops have been exempted under essential services, while remaining other business establishments have been kept closed.


Police are also deployed to keep a watch on the developments in the city. CO Nem Singh himself is keeping an eye on the whole situation, while SHO Ishwarchand Jangid is also active in the area. Traders are also closing shops without any protest. District Collector Namit Mehta has summoned a report in the matter.