बीकानेर: टोल नाके पर तोड़फोड़ करने के मामले में चार माह से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस ने दबोचा....

बीकानेर: टोल नाके पर तोड़फोड़ करने के मामले में चार माह से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस ने दबोचा....
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

बीकानेर: टोल नाके पर तोड़फोड़ करने के मामले में चार माह से फरार चल रहे आरोपी को पुलिस ने दबोचा....


पुलिस थाना नोखा की कार्रवाई – सोमलसर टोल नाके पर तोड़फोड़ के प्रकरण में चार माह से फरार चल रहा था अभियुक्त

बीकानेर। पुलिस थाना नोखा ने कार्रवाई करते हुए आज सोमलसर टोल नाका पर तोड़फोड़ के प्रकरण में चार माह से फरार चल रहे अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया है। थानाधिकारी ने बताया कि 8 जुलाई 2021 को शंकर लाल पुत्र चन्दाराम जाति जाट निवासी सिंगोद कला पुलिस थाना चौमू जिला जयपुर ने थाने में उपस्थित होकर एक रिपोर्ट पेश की। इसमें उसने बताया कि नोखा से बीदासर जाने वाले स्टेट हाईवे पर सोमलसर के पास स्थित राज्य सरकार के टोल को एम. एस. बलवीर कंट्रक्शन कम्पनी ने वर्ष 2021-22 बजट सत्र के लिए ले रखा हैं।

उसने बताया कि 7 जुलाई की रात्रि को एक कैम्पर गाड़ी बिना नम्बरी नोखा की तरफ से आई। वाहनों से टोल वसूलने के लाइन पर बूम लगा हुआ था, लेकिन कैम्पर चालक ने वाहन को नहीं रोका तथा बूम को तोड़ते हुए बिना टोल टैक्स दिए ही कैम्पर गाड़ी को निकाल कर ले गया। टोल से कुछ दूर जाने के पश्चात कैम्पर के चालक ने वाहन को वापस घुमाया। फिर टोल पर काम कर रहे अन्य कार्मिकों को जान से मारने की नियत से कैम्पर वाहन को कार्मिकों के पीछे दौड़ाया। शंकर लाल तथा टोल पर काम कर रहे सभी कार्मियों ने इधर उधर भाग कर अपनी जान बचाई। उस बिना नम्बरी कैम्पर वाहन को विजयपाल बिश्नोई निवासी जयसिंह देसरा मगरा चला रहा था। वाहन में कैलाश बिश्नोई पुत्र हरीराम भाम्भू निवासी जयसिंह देसर मगरा, अशोक बिश्नोई पुत्र देवी लाल भादू निवासी जयसिंहदेसर मगरा व दो अन्य व्यक्ति बैठे थे। शंकर लाल ने बताया कि हम सभी डर के मारे हमारे कार्यालय की तरफ भागे। तब उक्त ने वाहन को हमें जान से मारने के लिए पीछे भगाया तथा तभी वाहन चालक विजयपाल ने हमें जान से मारने की नियत से फायर किए व हमारे टोल के कार्यालय के दरवाजे तोड़कर कार्यालय में अनाधिकृत रुप से जा घुसे।

उन्होंने कार्यालय का सारा सामान तोड़ दिया तथा टोल टैक्स के रूप में वसूला गया कार्यालय की आलमारी में रखा हुआ लगभग एक लाख रुपए सभी लूट कर ले गए। वगैरा वगैरा रिपोर्ट पर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान भोलाराम उ. नि. के सुपुर्द किया गया।

योगेश यादव आईपीएस पुलिस अधीक्षक जिला बीकानेर के निर्देशन व शैलेन्द्रसिंह इन्दोलिया आईपीएस अति पुलिस अधीक्षक शहर बीकानेर, सुनील कुमार आरपीएस अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण जिला बीकानेर व नेमसिंह चौहान आरपीएस वृताधिकारी वृत नोखा के निकट सुपरविजन में थानाधिकारी नोखा ईश्वरप्रसाद पुनि के नेतृत्व में टीम गठित कर प्रकरण में वांछित चल रहे आरोपीगण की तलाश करने करने हेतु निर्देशित किया गया। पुलिस टीम द्वारा आरोपीगण के संभावित स्थानों पर दबिश दी गई तथा आरोपीगण की तलाश की गई। मगर आरोपीगण घटना के बाद से गिरफ्तारी के भय से फरार थे। पुलिस टीम द्वारा प्रकरण में चार माह से वांछित चले रहे आरोपी सुरेन्द्रसिंह पुत्र गोकुलसिंह जाति राजपूत उम्र 19 साल निवासी मुक्ताप्रसाद कॉलोनी हाल वैध मघाराम कोलोनी पुलिस थाना नयाशहर जिला बीकानेर को बाद अनुसंधान गिरफ्तार किया गया हैं। 

प्रकरण में तीन आरोपी 
1. विजयपाल भाम्भू पुत्र जगदीश जाति बिश्नोई निवासी जयसिंहदेसर मगरा पुलिस थाना पांचू जिला बीकानेर, 
2. दिनेश कुमार भाम्भू पुत्र जगदीश जाति बिश्नोई निवासी जयसिंहदेसर मगरा पुलिस थाना पांचू जिला बीकानेर 
3. अशोक कुमार पुत्र देवीलाल भादू जाति बिश्नोई निवासी जयसिंहदेसर मगरा 

पुलिस थाना पांचू जिला बीकानेर को पूर्व में गिरफ्तार किया गया था जो पीसी रिमाण्ड पर चल रहे हैं। आरोपीगण द्वारा वक्त घटना प्रयोग में लिया गया वाहन बोलेरो कैम्पर जब्त की गई हैं। प्रकरण में शेष आरोपीगण की तलाश व अनुसंधान जारी हैं।

ये थे पुलिस टीम में

थानाधिकारी ईश्वर प्रसाद पुनि भोलाराम उनि, श्रवणकुमार सउनि, बलवीर कानि व राजेश मीणा कानि पुलिस टीम में शामिल थे।