राजस्थान के शिक्षकों के लिए बड़ी खबर, तृतीय श्रेणी अध्यापकों को फिर से करना होगा तबादला आवेदन

राजस्थान के शिक्षकों के लिए बड़ी खबर, तृतीय श्रेणी अध्यापकों को फिर से करना होगा तबादला आवेदन
07 .
..
5 ....
alt=width= .
..
... width="220px" 28m06c21d width="370px"

देश के करीब 85 हजार तृतीय श्रेणी शिक्षकों को आज एक बड़ा झटका लगा है. तबादलों की राह देख रहे करीब 85 हजार से ज्यादा तृतीय श्रेणी शिक्षकों को एक बार फिर से तबादलों के लिए आवेदन करना पड़ेगा. शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने संकेत देते हुए कहा कि शिक्षा विभाग की ओर से जो नई तबादला नीति तैयार की गई है, उसके तहत नीति को अप्रूवल मिलने के साथ ही नए नियमों के तहत शिक्षकों के लिए तबादलों के लिए फिर से आवेदन आमंत्रित किए जाएंगे, जिससे साफ हो गया है की तृतीय श्रेणी शिक्षकों को तबादलों के लिए अभी और इंतजार करना पड़ सकता है. 

गौरतलब है कि साल 2018 में कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई. उसके बाद से ही शिक्षा विभाग में थर्ड ग्रेड शिक्षकों को छोड़ सभी वर्गों में तबादले देखने को मिले. करीब तीन साल के लम्बे इंतजार के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अगस्त 2021 को तृतीय श्रेणी शिक्षकों से तबादलों के लिए आवेदन आमंत्रित किए. 8 अगस्त से 25 अगस्त तक करीब 85 हजार शिक्षकों ने तबादलों के लिए आवेदन किए, लेकिन इसके बाद से ही शिक्षक तबादला सूची जारी करने की मांग शिक्षक लगातार कर रहे थे. 

शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बताया कि तबादलों के लिए नीति बनाकर शिक्षा विभाग की ओर से मुख्य सचिव को भेज दी गई है, और मुख्य सचिव को अप्रूवल मिलने के साथ ही तबादलों की आगे की कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा, लेकिन नई तबादला नीति के तहत तृतीय श्रेणी शिक्षकों से फिर से आवेदन मांगे जाएंगे, और नई शिक्षा नीति के तहत ही जो उसके अंतर्गत आएगा उसको तबादलों में राहत दी जाएगी. साथ ही फिलहाल ट्रासंफर बंद होने की वजह से शिक्षकों के तबादले नहीं हो पा रहे हैं. जब स्थांतरण से रोक हटेगी तब शिक्षकों के तबादले भी कर दिए जाएंगे.