खतरे की घंटी! Google का ये खुलासा खिसका देगा पैरों तले जमीन, 140 देशों में से INDIA इस मामले में छठे नंबर पर

खतरे की घंटी! Google का ये खुलासा खिसका देगा पैरों तले जमीन, 140 देशों में से INDIA इस मामले में छठे नंबर पर
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

Google की एक रिपोर्ट का कहना है कि Ransomware की मुसीबत झेल रहे दुनिया के 140 देशों की लिस्ट में भारत छठवें नंबर पर है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले डेढ़ साल में लगभग 80 मिलियन से ज्यादा रैंसमवेयर सैम्पल्स का एनालिसिस करने के बाद गूगल इस नतीजे पर पहुंचा है। इस एनालिसिस के लिए 140 देशों से 80 मिलियन से ज्यादा रैंसमवेयर सैम्पल्स जमा किए गए थे।

ये देश हैं सबसे ज्यादा प्रभावित

इस रिपोर्ट के हिसाब से रैंसमवेयर समस्या सबसे ज्यादा प्रभावित देश हैं इजराइल, दक्षिण कोरिया, वियतनाम, चीन , सिंगापुर, भारत, कजाखस्तान, फिलिपींन्स, ईरान और यू के । इजराइल ने सबसे ज्यादा रैंसमवेयर सैम्पल्स जमा करवाए थे और जोकि न्यूनतम केसेस का 600 गुना ज्यादा है।

ये एनालिसिस गूगल के लिए VirusTotal ने किया है। 2004 में लॉन्च हुई VirusTotal का सितंबर 2012 में गूगल ने अधिग्रहण कर लिया था। फिर जनवरी 2018 में VirusTotal, गूगल क्लाउड प्लेटफार्म (GCP) की साइबर सिक्योरिटी कंपनी क्रॉनिकल सिक्योरिटी के कण्ट्रोल में चली गयी।



VirusTotal की ये रिपोर्ट दुनिया भर के सिक्योरिटी प्रैक्टिशनर्स, रिसर्चर्स और आम लोगों को इन रैनसमवेयर अटैक्स का असली रूप समझने में मदद करती है। इस रिपोर्ट से साइबर प्रोफेशनल्स को संदेहपूर्ण फाइल्स, डोमेन्स, URLs और IP एड्रैस को अच्छे से एनालिसिस करने में सहायता मिलती है। VirusTotal के विसेन्ट डियाज़ ने ये जानकारी देते हुए पहली रैनसम वेयर एक्टिविटी रिपोर्ट के बारे में बताया।

हैकर्स अब ना सिर्फ पैसे की मांग करते हैं बल्कि पैसे ना देने की सूरत में या फिर लीगल एक्शन लेने पर संवेदनशील और महत्वपूर्ण जानकारियाँ लीक करने की धमकी भी देने लगे हैं। हैकर्स रैनसम अटैक के लिए अलग अलग तरीके इस्तेमाल करते हैं। ये मैलवेयर अटैकर्स रैनसम अटैक के लिए बॉटनेट मैलवेयर या दूसरे रिमोट एक्सेस ट्रोजन्स (RATs) का इस्तेमाल करते हैं।

ज्यादातर केसेस में अटैक के लिए नए रैनसमवेयर सैम्पल्स का इस्तेमाल हो रहा है। इजराइल रैनसमवेयर एक्टिविटीज के सबसे ज्यादा निशाने पर रहता है और इजराइल द्वारा रिपोर्ट की गई ऐसी एक्टिविटीज बोटमलाइन से 600 गुना ज्यादा थी।

भारत भी लगातार रैनसमवेयर एक्टिविटीज के निशाने पर रहता है और 140 देशों की लिस्ट में भारत का स्थान छठवां है, जोकि चिंता का विषय है। रिपोर्ट ने बताय की गूगल Chrome OS क्लाउड पर किसी भी तरह के रैनसम वेयर अटैक नहीं हुआ है।

.

.

.

A report by Google says that India is at number six in the list of 140 countries of the world facing the problem of ransomware. Google has reached this conclusion after analyzing more than 80 million ransomware samples in the past year and a half, the report said. More than 80 million ransomware samples were collected from 140 countries for this analysis.

These countries are the most affected

According to this report the countries most affected by ransomware problem are Israel, South Korea, Vietnam, China, Singapore, India, Kazakhstan, Philippines, Iran and UK. Israel had submitted the highest number of ransomware samples, which is 600 times more than the minimum number of cases.

VirusTotal has done this analysis for Google. VirusTotal, launched in 2004, was acquired by Google in September 2012. Then in January 2018, VirusTotal went under the control of Chronicle Security, the cyber security company of Google Cloud Platform (GCP).


This VirusTotal report helps security practitioners, researchers and the general public around the world understand the true nature of these ransomware attacks. This report helps cyber professionals to thoroughly analyze suspicious files, domains, URLs and IP addresses. Giving this information, Vicente Diaz of VirusTotal told about the first ransomware activity report.


Hackers now not only demand money but have also started threatening to leak sensitive and important information in case of non-payment or if legal action is taken. Hackers use different methods for ransom attacks. These malware attackers use botnet malware or other Remote Access Trojans (RATs) for ransom attacks.

In most of the cases, new ransomware samples are being used for the attack. Israel has been the target of the most ransomware activities and such activities reported by Israel were 600 times more than at the bottomline.

India is also constantly on the target of ransomware activities and India is ranked sixth in the list of 140 countries, which is a matter of concern. The report said that there has not been any kind of ransomware attack on Google Chrome OS cloud.