सड़क हादसे में 6 की मौत का मामला: शादी के 3 महीने बाद नवविवाहित पति-पत्नी को मंदिर के दर्शन करवाने ले जा रहा था परिवार; गम में बदली खुशियां

सूरतगढ़-बीकानेर नेशनल हाईवे पर हिंदौर टोल प्लाजा के निकट शनिवार को ट्रेलर की टक्कर से क्रूजर सवार 4 महिलाओं सहित 6 लोगों की मौत हो गई। शनिवार देर शाम सभी का अंतिम संस्कार कर दिया गया। मृतकों में शामिल महिला आरजू (20) की करीब तीन महीने पहले ही शादी हुई थी। शादि की मन्नत पूरी होने पर आरजू अपने पति शुभम और ससुराल वालों के साथ रूणेचा धाम धोक लगाने के लिए जा रहे थे। रास्ते में ही हादसा हो गया। हादसे में आरजू की मौके पर ही मौत हो गई।

मृतकों में संगरिया की पूर्व प्रधान मंजूबाला नैण सहित 5 लोग एक ही परिवार के गांव किशनपुरा उतराधा (संगरिया) व कालवाना (हरियाणा) के निवासी थे। क्रूजर में चालक सहित 13 लोग सवार थे। हादसे में मंजूबाला, भविष्य, सुमन, सोनिया व आरजू की मौत हो गई। चालक अनिल की इस परिवार से जान-पहचान थी। इसलिए उसकी गाड़ी किराए पर लेकर रामदेवरा धोक लगाने के लिए रवाना हुए थे।

सूरतगढ़ में चाय पी, जयकारा लगा रवाना हुए थे, सामने आया ट्रेलर हमें घसीट ले गया
जिला अस्पताल के मेल सर्जीकल वार्ड में भर्ती रामदयाल ने बताया कि सुबह सभी खुश थे, हम परिवार के साथ रामदेवरा में धोक लगाने जा रहे थे। परिवार के सदस्य अल सुबह ही तैयार हाे गए, सुबह करीब 6:30 बजे गांव से रामदेवरा के लिए रवाना हाे गए। करीब 8:30 बजे सूरतगढ़ चाैराहे पर चाय पी, इसके बाद सभी फिर क्रूजर में सवार हाेकर रामदेवरा के लिए जय बाबे की जयकारा लगाते हुए रवाना हाे गए। मैं क्रूजर गाड़ी में कंडेक्टर साइड बैठा हुआ था और माेबाइल देख रहा था, दस बजे के आसपास समय रहा हाेगा, अचानक सामने से एक ट्रेलर ने भयंकर टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भीषण थी कि ड्राइवर साइड से पूरी क्रूजर गाड़ी नीचे धंस गई।

3

मृतक सुमन

ये अस्पताल में भर्ती
घायलों में रामदयाल (56) पुत्र हेतराम जाट, सुभाष नैण (58) पुत्र हेतराम, अनिता (18) पुत्री रामदयाल, पीयूष (23) पुत्र शिवप्रकाश, शुभम (25) पुत्र सुभाष, रेखा (25) पुत्री सुभाष व चंद्रमोहन (18) पुत्र रामदयाल काे प्राथमिक उपचार के बाद श्रीगंगानगर रेफर कर दिया।

मृतक मंजूबाला जो संगरिया की पूर्व प्रधान रह चुकी थीं।

मृतक मंजूबाला जो संगरिया की पूर्व प्रधान रह चुकी थीं।

कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा व एसपी राजन दुष्यंत निजी अस्पताल में उपचाराधीन घायलों से मिले और सांत्वना दी। कलेक्टर व एसपी ने दुर्घटना में घायल उपचाराधीन पीड़ितों से मिलकर उन्हें आश्वस्त किया कि अस्पताल में बेहतर से बेहतर उपचार हाेगा। कलेक्टर ने इस संबंध में सीएमएचओ काे भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने मृतकाें के परिजनों को एक-एक लाख रुपए की अार्थिक सहायता मुख्यमंत्री सहायता कोष से देने की भी घाेषणा की।

मृतक सोनिया।

मृतक सोनिया।

मृतक बच्चा भविष्य।

मृतक बच्चा भविष्य।

एक परिवार के पांच लोगों का साथ हुआ अंतिम संस्कार।

एक परिवार के पांच लोगों का साथ हुआ अंतिम संस्कार।

गाड़ी चालक अनिल।

गाड़ी चालक अनिल।