सरफिरे आशिक की करतूत: सिरफिरा आशिक तमंचा लेकर प्रेमिका के घर पहुंचा, बोला-शादी कराओ नहीं तो गोली मार दूंगा

 

  • निहालगंज थाने के गडरपुरा मोहल्ले की घटना, दो घंटे मशक्कत के बाद पुलिस ने दबोचा युवक

निहालगंज थाना इलाके के गडरपुरा मोहल्ले में गुरुवार दोपहर को उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक सिरफिरा आशिक अपनी प्रेमिका के घर में लोडेड तमंचा लेकर घुस गया। सिरफिरे आशिक ने हथियार की दम पर परिजनों को ललकारा और कहने लगा कि उसकी शादी प्रेमिका से अभी कराओ नहीं तो वह सबको मार डालेगा और खुद को भी गोली मार लेगा। युवक की हरकत देख परिजनों के होश उड़ गए और दहशत फैल गई। वहीं प्रेमी के हाथ में तमंचा देख आसपास के लोग भी घरों के अंदर घुस गए। परिजनों ने युवक पर पत्थर फेंक कर भगाने का भी प्रयास किया, लेकिन वह पिस्टल दिखाकर डराने लगा। इसके बाद परिजनों ने घटना की सूचना एसपी केसर सिंह शेखावत को दी। जिस पर एसपी ने मौके पर एएसपी वचन सिंह, सीओ सिटी प्रवेंद्र सिंह महला के साथ डीएसटी व पुलिस बल को भेजा।

सिरफिरे आशिक के रूप को देख पुलिस भी दंग रह गई। मकान के अंदर टीन शेड में आशिक पीछे की साइड से सुरक्षित होकर पुलिस के सामने खड़ा हो गया। जैसे ही पुलिस उसे पकड़ने के लिए आगे बढ़ी तो युवक ने खुद के सिर पर पिस्टल तान कर आत्महत्या की धमकी देने लगा। जिसे देखकर पुलिस पीछे हट गई।

3

युवती को परेशान करता रहा है युवक, पूर्व में भी किया था अपहरण

चौकी प्रभारी अशोक ने दिखाई बहादुरी, युवक के नजदीक पहुंचकर छुड़ाया तमंचा, तभी डीएसटी जवानों ने दबोचा
सिरफिरे आशिक द्वारा किए जा रहे हंगामे को लेकर करीब डेढ़ घंटे तक पुलिस सिरफिरे आशिक से मनुहार करती रही। पुलिस सिरफिरे आशिक के पास पहुंचने लगी बातों में उलझाती रही। बातों ही बातों में ओंडेला चौकी प्रभारी अशोक सिंह और सदर थाना प्रभारी रमेश तंवर उसके नजदीक पहुंच गए।

जिसके बाद चौकी प्रभारी अशोक ने सिरफिरे युवक से कहा कि अगर उसे गोली लगी तो पुलिस पकड़कर उसे बुरी तरह से पीटेगी। जिसके बाद चौकी प्रभारी ने हिम्मत दिखाते हुए तमंचा पकड़कर अपने कब्जे में लेने की कोशिश की। वहीं डीएसटी के जवानों ने भी झट से युवक को दबोच लिया।

प्रेमिका की सगाई के बाद किया अपहरण, परिजनों की शिकायत पर छोड़कर भागा था
एसपी शेखावत ने बताया कि गत दिनों परिजनों ने युवती की सगाई कर दी थी। जिसकी जानकारी मिलने के बाद सिरफिरे आशिक ने युवती का अपहरण कर लिया था। युवती के अपहरण की जानकारी मिलते ही परिजनों ने गुहार लगाई थी। जिस पर युवती को बरामद करने के लिए विशेष टीम को जिम्मेदारी सौंपी थी। पुलिस में शिकायत की जानकारी मिलने के बाद आरोपी युवक युवती को रास्ते में ही छोड़कर फरार हो गया था। जिसके बाद पुलिस ने युवती को दस्तयाब कर परिजनों को सौंपा था।

शहर के बीचोंबीच हुई घटना ने मचाई सनसनी

शहर के गहमागहमी वाले इलाके में दिनदहाड़े हुई इस घटना के बाद लोगों में सनसनी फैल गई। हालांकि पुलिस द्वारा पुलिस काफी समय से अवैध हथियारों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है साथ ही कई वांछित बदमाशों को भी सलाखों के पीछे पहुंचाया गया है।

युवक के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की दो एफआईआर

इस दौरान मोहल्ले के लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। करीब डेढ़ घंटे बाद पुलिस ने सिरफिरे आशिक को पकड़ने में सफलता हासिल की। जिसके बाद पुलिस युवक को लेकर निहालगंज थाने पहुंची। जहां एसपी केसर सिंह शेखावत ने आरोपी से पूछताछ शुरू की। मामले को लेकर पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की है।