मुख्यमंत्री गहलोत ने समझा कोरोना मरीजों का दर्द, अब 2200 के बजाए 1200 रुपए में होगी कोरोना की जांच

0
31

प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना मरीजों का दर्द समझते हुए निजी लैब में कोरोना की जांच दरों में बड़ी कटौती की है। अब 2200 के बजाए 1200 रुपए में कोरोना की जांच होगी। इस संबंध में चिकित्सा विभाग ने आदेश जारी किया। सभी प्राइवेट लैब्स पर नई दरों के यह आदेश लागू होंगे। रोजाना हजारों की तादाद में लोग निजी लैब पर भी जांच करा रहे है।

इससे पहले सोमवार को निजी लैब पर कोरोना टेस्ट की तय कीमत की फिर से समीक्षा की मांग की गई थी। प्रदेश में फिलहाल निजी लैब पर 2200 रुपए में कोरोना टेस्ट हो रहे थे। जबकि अधिकांश पड़ोसी राज्यों में 1500-1600 दर कर दी गई है।

PCC के चिकित्सा प्रकोष्ठ के पूर्व सहसंयोजक डॉ.संजीव गुप्ता ने CM गहलोत को पत्र लिखकर टेस्ट कीमत की फिर से समीक्षा की मांग उठाई थी। गुप्ता ने बताया कि जब राजस्थान में टेस्ट के लिए 2200 रुपए तय किए थे। तब RTPCR किट की बाजार कीमत 1100 से 1200 रुपए थी, लेकिन प्रतिस्पर्द्धा के दौर में अब यह किट बाजार में 200 रुपए में ही उपलब्ध है। ऐसे में किट के दाम को देखते हुए फिर से कोरोना टेस्ट की कीमत की समीक्षा हो। ताकि निजी अस्पतालों में उपचाररत लोगों की जेब पर जांच का भार कम हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here