भारत-पाकिस्तान बॉर्डर से ड्रग्स रैकेट चलाने वाले 3 तस्कर गिरफ्तार, 1 किलो हेरोइन बरामद

राजस्थान के श्रीगंगानगर (Sriganganagar) में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा (India-Pakistan Border) पर पाकिस्तानी तस्करों और बीएसएफ (BSF) जवानों के बीच हुई फायरिंग मामले में श्रीगंगानगर पुलिस ने सीमावर्ती गांव दुलारपुर कैरी से दो सगे भाइयों और पंजाब के रहने वाले एक तस्कर (Drug Peddler) को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार दोनों भाइयों के नाम सतनाम और बलविंदर सिंह हैं. पुलिस के मुताबिक इन दोनों भाइयों के खेत भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर हैं. इन्होंने तस्करों को पाकिस्तान से आने वाली मादक पदार्थों की डिलिवरी लेने में मदद की थी जिसकी एवज में उन्हें कमीशन मिलना था.

दरअसल बीते सात फरवरी की रात भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ की मदन लाल चौकी के पिलर नंबर 134 पर मादक पदार्थों की डिलिवरी देने आए पाकिस्तानी तस्करों और बीएसएफ जवानों के बीच फायरिंग हुई थी. गोलीबारी के बाद पाकिस्तानी तस्कर वापस भाग गए थे. श्रीगंगानगर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उस रात छह किलो के छह पैकेट भारतीय सीमा में फेंके गए थे जिनमें से पांच पैकेट पंजाब के तस्कर ले जाने में कामयाब रहे. वहीं एक पैकेट को बीएसएफ द्वारा तारबंदी के पास से जब्त कर लिया गया.

पुलिस फिलहाल गिरफ्तार तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है. इस मामले में पंजाब के अन्य तस्करों की मिलीभगत की भी जानकारी सामने आई है. श्रीगंगानगर पुलिस अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थों की तस्करी में शामिल अन्य तस्करों की तलाश में जुटी हुई है. साथ ही सीमा पार पाकिस्तान से आई पांच किलो हेरोइन की खेप भी बरामद की जानी है.

3