बीकानेर: 28 वर्षीय नौजवान ने भी संघर्षों से हार मानकर आत्महत्या कर ली

बीकानेर: 28 वर्षीय नौजवान ने भी संघर्षों से हार मानकर आत्महत्या कर ली
width="75px" width="575px" width="575px"
width="575px" width="575px"
width="175px" width="475px" width="375px"

संघर्षों से हार मानकर जीवन लीला समाप्त करने के मामले थमने का नाम ही नहीं ले रहे हैं। बीती रात 28 वर्षीय नौजवान ने भी संघर्षों से हार मानकर आत्महत्या कर ली। मामला नयाशहर थाना क्षेत्र के स्वामियों के मोहल्ले का है। एएसआई अशोक विश्नोई ने बताया कि बीती रात करीब साढ़े आठ बजे 28 वर्षीय नारायण स्वामी पुत्र सत्यनारायण स्वामी ने घर के कमरे में फांसी लगा ली। सूचना पर वे मौके पर पहुंचे। आवश्यक कार्यवाही के बाद शव मोर्चरी में रखवाया गया। बुधवार दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है।


एएसआई अशोक के अनुसार मृतक शादीशुदा था। पांच साल पहले उसकी शादी हुई थी। एक बच्चा भी हुआ मगर उसकी मृत्यु हो गई थी। वर्तमान में नारायण को गले में कोई बीमारी थी। जिसके इलाज में उसे तकलीफ का सामना करना पड़ता था। प्रथमदृष्टया आत्महत्या का कारण मानसिक परेशानी लग रहा है। सूत्रों के अनुसार मृतक नारायण ने अपनी मौसी की लड़की से विवाह किया था। जिसके बाद से ही मां बाप से अलग रहना पड़ रहा था। आत्महत्या का स्पष्ट कारण सामने नहीं आया है। मामले की जांच थानाधिकारी गोविंद सिंह चारण कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि जिले में लगभग हर एक दिन आत्महत्या के मामले सामने आ रहे हैं। दुखद यह है कि ना तो आत्महत्या के मामलों में ठोस जांच होती है और ना ही सामाजिक स्तर पर आत्महत्या के मामलों पर लगाम लगाने हेतु प्रयास हो रहे हैं।

.

.

.

The cases of ending the life after giving up the struggles are not taking the name of stopping. Last night, a 28-year-old youth also committed suicide after giving up the struggle. The matter is of the locality of the owners of Nayashahr police station area. ASI Ashok Vishnoi said that at around 8:30 last night, 28-year-old Narayan Swami's son Satyanarayana Swami hanged himself in the room of the house. On information they reached the spot. After necessary action, the body was kept in the mortuary. The body was handed over to the relatives after post-mortem on Wednesday afternoon.

According to ASI Ashok, the deceased was married. She got married five years ago. There was also a child but he had died. Presently Narayan had a disease in his throat. For which he had to face pain in the treatment. Prima facie the reason for suicide seems to be mental trouble. According to sources, the deceased Narayan had married his aunt's daughter. Since then, I had to live separately from my parents. The clear reason for the suicide has not been revealed. Police Station Officer Govind Singh Charan is investigating the matter.


It is noteworthy that almost every single day cases of suicide are being reported in the district. The sad thing is that neither there is a concrete investigation in the cases of suicide nor efforts are being made to curb the cases of suicide at the social level.