शहीद स्मारको का रख-रखाव करना देश प्रेम है फिर भी उपेक्षा

शहीद स्मारको का रख-रखाव करना देश प्रेम है फिर भी उपेक्षा
width="75px" width="575px" width="575px"
width="575px" width="575px"
width="175px" width="475px" width="375px"

बीकानेर । जिला कलेक्टर के घर से मात्र दो सो  मीटर दुरी पर स्थित शहीद मेजर पुर्ण सिंह सर्कील पिछले छह माह से  खड़ित है । यह ऐसा केन्द्रीय स्थल है जहां से पुरे दिन जनप्रतिनिधी ओर अधिकारी इसके आगे से गुजरते है ।

अपनी सेहत दुरस्त करने के लिए प्रतिदिन इसी के पास स्थित भ्रमण पथ पर शहर के कई जनप्रतिनिधी , अधिकारी एवम् प्रबुद्ध नागरिक  बड़े सवेरे दौड़ लगाते है , परन्तु पिछले मार्च माह से क्षतिग्रस्त सर्कील के सुधार के लिए कोई प्रयास नही कीये गये है । 


शहीद मेजर पुर्ण सिंह 1965 के भारत पाक युद्ध मे जैसलमेर के पास कई चौकीयो पर पुन: कब्जा करते हुए घायल हो गये थे ओर मातृ भूमी की रक्षा मे अपने प्राणो की आहुती दे दी थी । हाल ही में हमने अपना पचहत्तर वॉ स्वतन्त्रता दिवस मनाया परन्तु फिर भी कीसी ने इस तरफ ध्यान नही दिया । 
जिला कलेक्टर श्री नमित मेहता को इस स्थान पर तुरन्त आदेश देकर मरम्मत कार्य करवाना चाहिए ।