फोन पर केक का ऑर्डर लेना महंगा पड़, खाते से उड़ाए 98 हजार, क्यू आर कोड स्कैन कर निकाल लिए रूपये

एक महिला को फोन पर केक का ऑर्डर लेना महंगा पड़ गया। शातिर ने पेटीएम के लिए कहा और वाटसअप पर क्यूआर कोड को स्कैन करवाने के बाद खाते से 98 हजार 400 रुपये साफ कर डाले। पहले उसने पेटीएम के लिए 4 रुपये खाते में डाले। फिर वारदात को अंजाम दिया गया।

घटना की जानकारी पुलिस के देरी से मिली। मगर फिर से पुलिस ने खाते से 14 हजार रुपये जाने से बचा लिए। अब देवनगर पुलिस इसकी जांच में जुटी है।थानाधिकारी सोमकरण ने बताया कि 7बी 28 चौथा पुल चौपासनी हाऊसिंग बोर्ड निवासी पारूल पत्नी धीरेंद्र शर्मा की तरफ से यह रिपोर्ट दी गई है। इसमें बताया कि वह पार्थ नाम से बेकरी चलाती है। सोमवार को उसके मोबाइल पर किसी शख्स का फोन आया, जिसने आठ किलो का केक 17 फरवरी को बुक करवाया। इसके लिए रुपये उसने पेटीएम से भुगतान करने का कहा।

तब शातिर ने उससे पेटीएम नंबर लेकर पहले खाते में 4 हजार रुपये डाले। मगर बाद में उसने वाटसअप क्यूआर कोड को भेज कर उसे स्कैन करने को कहा गया। इस पर पारूल ने उसके द्वारा भेजे गए क्यूआर कोड को स्कैन किया तब खाते में चार रुपये आए। फिर शातिर ने दूसरी बार क्यूआर कोड भेजा तब उसके स्कैन किए जाने पर अलग-अलग मदों में आठ दस बार में 98 हजार 400 रुपये निकाल लिए। शातिर बदमाश ने फिर फोन बंद कर डाला।थानाधिकारी के अनुसार पारूल के आखलिया स्थित आईसीआईसीआई बैंक शाखा से यह रकम पार हुई है। वह बैक भी गई। बाद में पुलिस को सूचना दी गई। तब पुलिस ने खाता ब्लॉक करवाने से उसके खाते से 14 हजार रुपये बचा लिए गए। देव नगर थाना पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

3