पुलिस के हत्थे चढ़े तलवार गैंग के दो सदस्य, तलवार मारकर घायल करके लूट लेते थे

पुलिस की नाक में दम करने वाली तलवार गैंग के दो सदस्य हत्थे चढ़ गए हैं. उदयपुर पुलिस ने तलवार गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है तो वहीं दो बाल अपचारी डिटेन किए गए हैं. यह आरोपी तलवार के दम पर राहगीरों को घायल कर उनके साथ लूट की वारदात को अंजाम दे रहे थे. पकड़े गए आरोपी एमबी हॉस्पिटल की पार्किंग में कार्य करते थे और फिर लूट की वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहे थे.

उदयपुर एसपी डॉ राजीव पचार ने बताया कि अंबामाता,  नाई, झाडोल और गोगुंदा थाना इलाके में तलवार गैंग के सदस्यों ने पिछले एक सप्ताह में 8 वारदातों को अंजाम दे चुके हैं. आरोपी ग्रामीण इलाकों में ही रेकी करते हुए अकेले घूमने वाले लोगों को निशाना बना रहे थे और तलवार से उन्हें डरा धमका कर और नहीं मानने पर तलवार मारकर घायल कर उनके साथ लूट की घटना को अंजाम दे रहे थे. पीड़ित पक्ष घायल होने के चलते पुलिस को तुरंत सूचना नहीं दे पाते तब तक आरोपी मौके से फरार हो जाते. यही नहीं इन आरोपियों ने राहगीरों से उनके वाहन और मोबाइल तक भी छीन लिए थे. राहगीरों से लूटे गए वाहन का प्रयोग कर ही ये आरोपी दूसरी लूट की घटना को अंजाम देते थे.

कबूलनामा- लूट की 12 घटनाओंं को अंजाम दिया 

3

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों ने 12 लूट की घटनाओं को करना कबूल किया है. इन लूट की घटनाओं में पुलिस के पास महज 8 पीड़ित ने मामला दर्ज कराया था, जबकि 4 ऐसे मामले हैं जिनमें किसी ने कोई FIR दर्ज नहीं कराई. पुलिस ने इन आरोपियों के पास से तलवार, बाइक, कुछ मोबाइल और खाली पर्स आदि बरामद कर लिए हैं.पहले से दर्ज हैं आपराधिक मामले 

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में राजसमंद जिले का लहर सिंह और उदयपुर के झाडोल का हेमंत चौधरी शामिल है. इन आरोपियों पर पूर्व में भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. हेमंत पर 5 आपराधिक मामले दर्ज हैं जिसमें लूट, चोरी रॉबरी और धमकाने के मामले में FIR दर्ज है तो वहीं लहर सिंह पर दो आपराधिक मामले दर्ज हैं. जिन बाल अपचारी को डिटेन किया गया है उनमें एक का नाम पहले भी लूट के दो मामलों में आ चुका है.