ज्वैलर हनी ट्रैप का शिकार: दो महिलाओं और दो बदमाशों ने ज्वैलर को अश्लील फोटो से किया ब्लैकमेल, पांच लाख ऐंठे

शहर के महामंदिर इलाके में रहने वाले एक ज्वैलर को हनी ट्रैप का शिकार बनाकर दो महिलाओं और दो बदमाशों ने डेढ़ साल में करीब पांच लाख रुपए ऐंठ लिए। इतना ही नहीं दो दिन पहले उसे कायलाना बुलाकर बाइक लूटने के साथ सोने की अंगूठी छीनकर 50 हजार रुपए की मांग की। 6 फरवरी को उसके घर में आकर मारपीट का वीडियो वायरल करने की धमकी के साथ रुपए की मांग की। इस घटना के बाद परिवार सदस्य भी सदमे में हैं। ज्वैलर ने महामंदिर थाना पुलिस से मामले की शिकायत की है।

महामंदिर थानाधिकारी लेखराज सिहाग ने बताया कि घटना को लेकर 47 साल के एक ज्वैलर ने रिपोर्ट देकर बताया कि करीबन 17-18 माह पहले तरुण प्रजापत नाम के शख्स ने सोने-चांदी के जेवरात खरीदने के लिए उसे एक स्थान पर बुलाया था। जहां पर पहले से ही एक महिला नेहा मौजूद थी। वह महिला उसके गले लिपट गई। इस पर उसके फोटोग्राफ्स खींच लिए गए। इसके दो तीन बाद ही उसे फोटोग्राफ्स भेज कर समाज में बदनाम करने की धमकी देकर रुपए की मांग करने लगे। इसमें बाद में ललिता नाम की एक और महिला और उसका साथी प्रेम सिंह भी शामिल हो गए।

ये लोग लगातार पिछले डेढ़ साल से कभी सोने-चांदी के आभूषण तो कभी नकदी ले जाते रहे है। हाल में 5 फरवरी को उसे कायलाना बुलाया गया। ज्वैलर ने पुलिस को बताया कि इन लोगों ने कायलाना आने पर उससे मारपीट की और बाइक के साथ हाथ में पहनी सोने की अंगूठी लूट ली। इन लोगों ने उससे 50 हजार रुपए भी मांगे। बाद में उसकी बाइक तो लावारिश हालत में मिल गई।

3

6 फरवरी को ये सभी लोग उसके घर में आ गए। फिर मारपीट करने का भी वीडियो बनाया और सार्वजनिक करने की धमकी देकर 50 हजार रुपए मांगे। जाते वक्त बाइक को ले गए। थानाधिकारी सिहाग ने बताया कि नेहा और ललिता नाम की महिलाएं विधवा है। नेहा मूल रूप से इलाहाबाद की रहने वाली बताई जाती है, जबकि ललिता के साथ रहने वाला प्रेम सिंह जैसलमेर का है। आरोप है कि करीब पांच लाख रुपए ज्वैलर से ऐंठ लिए गए है, इसके साथ ही कई ज्वैलरी आइटम भी लिए गए है।