जेल में बंद आसाराम की तबियत बिगड़ी, देर रात अस्पताल लेकर पहुंची पुलिस

नाबालिग से यौन शोषण मामले में जेल में सजा काट रहे आसाराम की देर रात तबियत बिगड़ गई. जोधपुर के सेंट्रल जेल में तबियत बिगड़ने के बाद जेल प्रशासन आसाराम को शहर के महात्मा गांधी अस्पताल लेकर पहुंचा. अस्पताल में इलाज के दौरान भी आसाराम ने तीन घंटे तक पुलिसकर्मियों को प्रवचन दिए. वहीं आसाराम को देखने के लिए अस्पताल के बाहर समर्थकों की भीड़ उमड़ पड़ी. इलाज के दौरान का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें आसाराम अस्पताल के अंदर ही पुलिसवालों को प्रवचन दे रहे हैं.

दरसअल, कल देर रात 12 बजे आसाराम की सेंट्रल जेल में तबियत बिगड़ गई. सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद जेल प्रशासन कड़ी सुरक्षा के बीच आसाराम को जेल से बाहर महात्मा गांधी अस्पताल लेकर पहुंचा. उन्हें पुलिस वैन में अस्पताल पहुंचे ले जाया गया. जैसे ही आसाराम के समर्थकों को इसकी सूचना लगी, वह अस्पताल के बाहर पहुंच गए. जब तक आसाराम अस्पताल से वापस जेल नहीं गया, तब तक भीड़ मौजूद रही.

3
नाबालिग से यौन शोषण मामले में जेल में सजा काट रहे आसाराम की देर रात तबियत बिगड़ गई.

अस्पताल में चार डॉक्टरों की टीम ने आसाराम का चेकअप किया. सीटी स्कैन भी करवाया गया, लेकिन तीन घंटे के इलाज के बाद आसाराम को वापस जेल ले जाया गया. उन्हें सांस में तकलीफ हो रही थी, इसके बाद डॉक्टरों ने उनको कुछ दवाएं दीं और सीटी स्कैन कराई गई, जांच रिपोर्ट्स नॉर्मल हैं.

अस्पताल में ही प्रवचन देने लगे आसाराम

इलाज के दौरान का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें आसाराम अपने सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को अस्पताल के अंदर ही प्रवचन दे रहे हैं. चारों ओर पुलिस से घिरे आसाराम अस्पताल के सिटी स्कैन कक्ष में ही पुलिसकर्मियों को धर्म-कर्म का ज्ञान दे रहे हैं और पुलिस वाले उन्हें ध्यान से सुनते हुए दिखाई दे रहे हैं.

रात 3 बजे तक अस्पताल के बाहर समर्थकों का जमावड़ा

महात्मा गांधी अस्पताल में जैसे ही आसाराम की तबियत खराब होने की जानकारी आसाराम समर्थकों को मिली. वह अस्पताल के बाहर जुटने लगे. देर रात भारी भीड़ को देखते हुए पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गई. भारी सुरक्षा के बीच तीन घंटे इलाज के बाद आसाराम को पुलिस अस्पताल से वापस सेंट्रल जेल लेकर रवाना हो गई. इस दौरान आसाराम को देखने के लिए समर्थक पुलिस की गाड़ी के पीछे दौड़ने लगे. इसमें महिला और पुरुष शामिल थे.