जानिए मौसम का हाल

पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में रविवार को भी कड़ाके की ठंड का प्रकोप जारी रहा

जानिए मौसम का हाल
...
width="120px" width="175px" alt= alt=

उत्तर भारत में इन दिनों कड़ाके की ठंड पड़ रही है. राजस्‍थान के कई शहरों में जहां पारा माइनस में पहुंच गया है, वहीं हरियाणा और पंजाब में भी ठंड से लोगों का हाल बेहाल है. वहीं अब दिल्ली-एनसीआर में सोमवार से शीतलहर चलने और न्यूनतम तापमान के गिरकर करीब तीन डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के आसार हैं. मौसम विभाग के मुताबिक, दिल्ली-एनसीआर में 16 जनवरी और 18 जनवरी के बीच शीतलहर चलेगी. आयानगर और रिज इलाके में मंगलवार और बुधवार को न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रह सकता है.

आईएमडी के एक अधिकारी के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के परिणामस्वरूप ठंड से राहत मिलने से पहले इस महीने के अधिकांश दिनों में उत्तर और उत्तर-पश्चिमी भारत के बड़े हिस्से में अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया. अधिकतम और न्यूनतम तापमान में यह गिरावट पिछले 10 से 11 दिनों से सिंधु-गंगा के मैदानी इलाकों में घने कोहरे की परत और दो पश्चिमी विक्षोभ के बीच एक बड़े अंतर के कारण हुई थी, जिसके चलते बर्फ से ढके पहाड़ों से ठंडी हवाएं सामान्य से अधिक समय तक चलीं.
मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में जल निकायों और नदियों के कारण सिंधु-गंगा के मैदानों में बहुत अधिक नमी है. एक बार पश्चिमी विक्षोभ के पीछे हटने के बाद, उत्तर-पश्चिमी ठंडी हवाएं मैदानी इलाकों की ओर चलने लगेंगी.
पंजाब, हरियाणा में कड़ाके की ठंड
पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में रविवार को भी कड़ाके की ठंड का प्रकोप जारी रहा. इस दौरान फरीदकोट इस क्षेत्र का सबसे ठंडा स्थान रहा. मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब के फरीदकोट में तापमान शून्य से एक डिग्री नीचे दर्ज किया गया. पंजाब के अन्य स्थानों में, अमृतसर कड़ाके की ठंड की चपेट में है और वहां न्यूनतम तापमान 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
इस बीच, पड़ोसी राज्य हरियाणा में अम्बाला का न्यूनतम तापमान 5.6 डिग्री सेल्सियस जबकि हिसार का न्यूनतम तापमान 4.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. इसके अलावा नारनौल, रोहतक, भिवानी और सिरसा में न्यूनतम तापमान क्रमश: 4, 5.2, 4.7 और 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
राजस्थान के फतेहपुर में पारा -4.7 डिग्री सेल्सियस
राजस्थान में फतेहपुर और चूरू सबसे ठंडा स्थान रहा. फतेहपुर में तापमान -4.7 डिग्री और चूरू में -2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक, पश्चिम राजस्थान के कई स्थानों पर भीषण शीतलहर का प्रकोप है, जिसकी वजह से अजमेर, कोटा और उदयपुर संभाग में उल्लेखनीय रूप से न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है. चित्तौड़गढ़ में न्यूनतम तापमान शून्य से 1.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. वहीं सीकर में तापमान 0.5 डिग्री सेल्यिस, भीलवाड़ा में 0.6 डिग्री, बीकानेर में 1.2 डिग्री, पिलानी में 1.6 डिग्री, बारां में 1.7 डिग्री और संगारिया में 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
राजस्थान के सभी अहम शहरों में रविवार को न्यूनतम तापमान सात डिग्री से नीचे दर्ज किया गया. राज्य की राजधानी जयपुर में अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 19.5 डिग्री और 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
झारखंड में फिर से हो सकती है ठंड की वापसी
झारखंड में रविवार रात से एक बार फिर कड़ाके की ठंड दस्तक दे सकती है. मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर से आने वाली उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की जा सकती है. हिमालयी क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ के कारण 12 जनवरी से न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की वृद्धि के कारण झारखंड में ठंड से आंशिक रूप से राहत मिल रही है. झारखंड में 19 जनवरी से तापमान बढ़ने की संभावना है, क्योंकि 18 जनवरी की रात से एक नया पश्चिमी विक्षोभ, पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है.
कई शहरों में कल खुलेंगे स्कूल तो बिहार में बदला टाइम
राजस्थान के कई जिलों में तो पारा शून्य से नीचे जा चुका है और इस मौसम में राजस्थान के रेगिस्तान में पहली बार बर्फ़ देखने को मिली है. कड़ाके की ठंड की वजह से हरियाणा और चंडीगढ़ ने स्कूल की छुट्टियां बढ़ा दी है. अब स्कूल 21 जनवरी से खुलेंगे. वहीं, गाज़ियाबाद, लखनऊ और नोएडा में स्कूल सोमवार से खुलने वाले हैं. बिहार में स्कूल की टाइमिंग साढ़े नौ बजे सुबह से की गई है.